सोमवार, जनवरी 22, 2018

वसंत एक फूल ... डॉ शरद सिंह

Poetry of Dr (Miss) Sharad Singh
वसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनाएं !
Happy Vasant Panchami !!!

वसंत एक फूल
---------------
गुज़रते वसंतों से
एक वसंत चुन कर
टांक लिया है मैंने
यादों के लहराते
बालों में फूल की तरह
अब हर वसंत में
खिल उठता है
वही फूल
*प्लेटोनिक प्रेम की तरह।
- डॉ. शरद सिंह


रविवार, जनवरी 21, 2018

ज़िन्दगी उसी समय... डॉ शरद सिंह

Poetry of Dr (Miss) Sharad Singh
ज़िन्दगी उसी समय...
----------------------
ख़यालों के प्याले से
यादों की
कुछ मीठी चुस्कियां
ठीक वैसे ही
जैसे कोई देखे मुड़ कर देखे
और करे महसूस
किसी के पदचाप
किसी की उपस्थिति
किसी का अपनापन
और साथ चलने की ललक
ज़िन्दगी उसी समय
भर उठती है गर्मजोशी से
अचानक ... अनायास ...।
- डॉ. शरद सिंह

#SharadSingh #Poetry #MyPoetry #World_Of_Emotions_By_Sharad_Singh
#ख़यालों #प्याले #मीठी_चुस्कियां #पदचाप #उपस्थिति #अपनापन #ज़िन्दगी #गर्मजोशी #अचानक #अनायास

शुक्रवार, जनवरी 19, 2018

एक शाम... बस, यूं ही ... डॉ (सुश्री) शरद सिंह

Dr (Miss) Sharad Singh, Author
बस, यूं ही ...
एक डोसा, एक पिज्जा, एक बर्गर
आपस में शेयरिंग
खाने की
बातों की
और
ढेर सारे अपनेपन की
कभी-कभी,
होना ही चाहिए
बस, यूं ही ...

 - डॉ (सुश्री) शरद सिंह
 
Dr (Miss) Sharad Singh, Author and Poetess Dr Varsha Singh


Dr (Miss) Sharad Singh, Author and Poetess Dr Varsha Singh

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

Dr (Miss) Varsha Singh,Poetess

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

Dr (Miss) Sharad Singh, Author

सोमवार, जनवरी 08, 2018

दे दिये आंसू ... डॉ शरदसिंह

Poetry of Dr (Miss) Sharad Singh
दे दिये  आंसू , मगर  रूमाल  वो   न दे सका 
शख़्स वो, सोचो भला कैसे किसी का हो सका
जो अकेलेपन से लड़ता, जूझता दिन भर रहा  

रात आई, इक पहर भी  चैन  से  न सो सका
- डॉ शरदसिंह


#SharadSingh #Poetry #MyPoetry #World_Of_Emotions_By_Sharad_Singh

प्रथम ‘‘ गीतकार श्री विट्ठल भाई पटेल सम्मान ’’ डॉ (सुश्री) शरद सिंह को को


First Vitthalbhai Patel Award to Dr (Miss) Sharad Singh by Manvani Films , 07.01.2018
 07.01.2018 का दिन मेरे लिए यादगार रहेगा। मनवानी फिल्म्स सिन्धु संस्कार द्वारा कल रवीन्द्र भवन में मुझे प्रथम ‘‘ गीतकार श्री विट्ठल भाई पटेल सम्मान ’’ से सम्मानित किया गया। तस्वीरें उसी अवसर की ...
Hearty Thanks Manvani Films !!!.. और ... हार्दिक आभार श्री राजेश मनवानी (निदेशक मनवानी फिल्म्स), डॉ विष्णु पाठक (कला गुरू), पं. गोपाल भार्गव (पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री, मध्यप्रदेश शासन), श्री शैलेन्द्र जैन (विधायक सागर), इंजी. अभय दरे (महापौर सागर), डॉ अनिल तिवारी (संस्थापक कुलपतिए स्वामी विवेकानन्द विश्वविद्यालय सागर), डॉ महेश दत्त त्रिपाठी (शिक्षाविद् एवं कला विशेषज्ञ) एवं श्री सतीश पाठक (पत्रकार) तथा उन सभी का आभार जिन्होंने मेरे लेखन के प्रति इस अवार्ड के रूप में विश्वास प्रकट किया।
First Vitthalbhai Patel Award to Dr (Miss) Sharad Singh by Manvani Films , 07.01.2018
First Vitthalbhai Patel Award to Dr (Miss) Sharad Singh by Manvani Films , 07.01.2018

First Vitthalbhai Patel Award to Dr (Miss) Sharad Singh by Manvani Films , 07.01.2018
 First Vitthalbhai Patel Award to Me means Dr (Miss) Sharad Singh by Manvani Films, 07.01.2018
Hearty Thanks Manvani Films !!! ..
and ... Hearty Thanks to Mr Rajesh Manwani (Director Manvani Films), Dr. Vishnu Pathak (Art Guru), Pt. Gopal Bhargava (Panchayat and Rural Development Minister, Madhya Pradesh Government), Shri Shailendra Jain (MLA Sagar), Eng. Abhay Dar (Mayor Sagar), Dr. Anil Tiwari (founder Chancellor Swami Vivekananda University Sagar), Dr. Mahesh Dutt Tripathi (Educationist and Art Specialist) and Mr. Satish Pathak (Journalist) and all those who believe in my writing work.

Dainik Aacharan, Sagar Edition, 07.01.2018 ... First Vitthalbhai Patel Award to Dr (Miss) Sharad Singh by Manvani Films , 07.01.2018

गुरुवार, जनवरी 04, 2018

ढूंढता है मन ... डॉ शरद सिंह

Poetry of Dr (Miss) Sharad Singh
ढूंढता है मन ...
-------------------
जाड़े की रात
धुंधलके में डूबी
सूनी सड़कों पर
किसी की 
यादों की
पहन कर जर्किन
घूमता है मन
खुद ही खुद से
नाराज़
उसे ढूंढता है मन
खो दिया है जिसे 
पा कर
एक एहसास की तरह...

- डॉ शरद सिंह

#SharadSingh #Poetry #MyPoetry #World_Of_Emotions_By_Sharad_Singh
#शरदसिंह #एहसास #सूनी #सड़कें #ढूंढता #मन

#SharadSingh #Poetry #MyPoetry #World_Of_Emotions_By_Sharad_Singh
#शरदसिंह #एहसास #सूनी #सड़कें #ढूंढता #मन